Month: September 2022

कुछ अपने लोग 

120 Views कुछ अपने लोग अजनबी शहर , अनजान रास्तें अनजाने लोग, अनेक इरादे मेरी तन्हाइयों पर खिलखिलाते रहे मेरे कामों पर बहाने बनाने वाले लोग अपने कामों पर प्यार से पुकारते रहे I माँ के प्यार की कमी , पापा की डाट की कमी इतनी रही कि मेरे आसू कभी भी कहीं भी निकलने …

कुछ अपने लोग  Read More »

संगीत

88 Views संगीत उदास मन जब कभी, उदासियों में और घिरता जाए , तब ज़िव्हा पर नई धुने , अपने आप ही बुनता जाए | फिर जब खुशियाँ मिलें , तब उनके नशे में घुलता जाए , ये ज़िव्हा ही नहीं हर अंग , नई सरगमें और चुनता जाए | संगीत भाषा अंतर्मन की , …

संगीत Read More »